भीम एप्प ने राजस्थान के ग्रामीण इलाके के एक शिक्षक का जीवन बदल दिया

0
40

जोधपुर। राजस्थान में सवाई माधोपुर के खंडर ब्लाॅक गांव में छयालीस वर्शीय शिक्षक रामलाल चैरसिया आज अपने विद्यार्थियों और स्थानीय निवासियों के बीच भीम एप्प का प्रचार कर रहे हैं। इस एप्प ने उनके बैंकिंग के काम को बहुत आसान बना दिया है। श्री चैरसिया बताते हैं कि वो इस एप्प के फायदे दूसरों को भी बता रहे हैं, ताकि वो सब भी इस एप्प का इस्तेमाल करें।
इससे पूर्व ग्रामीण शिक्षा केंद्र के स्कूल टीचर, श्री चैरसियां को अपनी नजदीकी षाखा में चेक जमा करने के लिए स्कूल से छुट्टी लेकर 40 किलोमीटर दूर जाना पड़ता था। यह चेक कोटा ज़ोन जाकर क्लियर होने में चार दिन का समय लेता था। लेकिन भीम एप्प डाउनलोड करने के बाद उन्होंने कुछ ही सेकंड में यूपीआई आईडी का प्रयोग करेक अपना फंड ट्रांसफर कर दिया। अब उन्हें अपने बैंक खाते और आईएफएस कोड को भी याद नहीं रखना पड़ता है, जिनका उपयोग आॅनलाईन बैंकिंग के दौरान फंड ट्रांसफर के लिए होता है। इस प्लेटफाॅर्म द्वारा पैसे का अतिषीघ्र ट्रांसफर नेषनल पेमेंट्स काॅर्पोरेषन आॅफ इंडिया (एनपीसीआई) द्वारा किया जाता है।

भीम एप्प इस्तेमाल में बहुत आसान है। एन्ड्राॅयड यूज़र्स गूगल प्ले स्टोर से भीम एप्प डाउनलोड कर सकते हैं। आईफोन यूज़र्स को यह एप्प एप्पल एप्प स्टोर पर मिलेगा। एक बार डाउनलोड हो जाने के बाद इस एप्प में यूज़र्स को अपना बैंक खाता डालना होता है और अपने डेबिट कार्ड द्वारा यूपीआई पिन सेट करनी होती है। इसके बाद वो इस एप्प के माध्यम से विनिमय कर सकते हैं। इस एप्प का इस्तेमाल करते वक्त आपको दो चीजें याद रखनी होंगी। पहले आपको अपने मोबाईल नंबर को बैंक खाते से लिंक करना होगा और फिर विनिमय करते वक्त बैंक खाते से लिंक किए गए मोबाईल नंबर की सिम कार्ड को मोबाईल हैंडसेट में इस्तेमाल करना होगा।
भीम एप्प का इस्तेमाल करके आप बैंक शाखा में जाए बिना पैसे भेज या निकाल सकते हैं। यह एप्प मुख्य क्षेत्रीय भाशाओं में भी उपलब्ध है। यूज़र्स तत्काल पैसे भेजने या प्राप्त करने के लिए अपने फोन संपर्कों में से बेनेफिषियरी चुन सकते हैं। भीम एप्प ने मर्चेंट लोकेषंस पर पैसे का भुगतान करना भी आसान बना दिया है। इसके लिए आपको क्यूआर कोड के माध्यम से ‘स्कैन एण्ड पे’ विकल्प को इनेबल करना होगा।

LEAVE A REPLY