पूर्व नरेश गजसिंह का 71वां जन्मदिवस मनाया

90

जोधपुर। मारवाड़ के सांस्कृतिक दूत के रूप में विश्व में अपनी विशिष्ट पहचान बनाने वाले पूर्व नरेश गजसिंह का 71वां जन्मदिन मंगलवार को उम्मेद भवन पैलेस के राठौड़ दरबार हॉल में राजसी परम्परानुसार मनाया गया। समारोह में पूर्व राजपरिवार सहित मारवाड़ के विभिन्न जिलों से पूर्व जागीरदार, जन प्रतिनिधि व नागरिक शरीक हुए और उन्होंने पूर्व नरेश को जन्मदिवस की शुभकामनाएं दी।
पूर्व नरेश गजसिंह के निजी सचिव जगतसिंह राठौड़ ने बताया कि जन्मदिन का मुख्य समारोह उम्मेद भवन पैलेस के राठौड़ दरबार हॉल में हुआ। राठौड़ दरबार हॉल में बैठक व्यवस्था प्राचीन परम्परानुसार रही। समारोह में सभी परम्परागत साफा पहने हुए थे।
इससे पहले प्रात: 11 बजे मेहरानगढ़ दुर्ग में चामुंडा माता मंदिर में चामुंडा, कालकाजी व बच्छराजजी की पूजा व बाड़ी के महल में नागणेच्चियां, चतुर्भुजजी, थापनाजी, महादेवजी, हिंगलाजजी व श्रीसिंगलाजी, जरनेश्वरजी व चिडिय़ानाथजी की पूजा की गई। उसके बाद पूर्व नरेश गजसिंह जसवन्तथड़ा पहुंचकर पूर्वजों को नमन करके पुन: उम्मेद भवन पैलेस
पहुंचे।

उम्मेद भवन पैलेस पहुंचने पर बाइजीलाल शिवरंजनी राजे ने उनकी अगवानी की। इसके बाद जनाना दरबार में पहुंचने पर बड़े बाइजीलाल व भुवासा द्वारा नजर निछरावल की गई। फिर बाईजीलाल शिवरंजनी राजे, भंवर बाईजीलाल वारा राजे, पूर्व महारानी हेमलता राजे, गायत्री कुमारी द्वारा नजर निछरावल व अन्य पूर्व राजकुमारियां व पूर्व रानियों द्वारा और राव राजा, पूर्व जागीरदार परिवारों द्वारा नजर निछरावल की गई।
जन्मदिन का मुख्य समारोह उम्मेद भवन पैलेस के राठौड़ दरबार हॉल में
हुआ जहां मर्दाना दरबार लगा। समारोह में सबसे पहले राजपुरोहित व राजपंडितों द्वारा तिलक, आरती व मेवा मिष्ठान थाल पुष्पेन्द्रसिंह द्वारा प्रस्तुत किया गया। इसके बाद सबसे पहले शिवराजसिंह ने जन्मदिन की नजर निछरावल की, फिर राज भंवर सिराजदेव, पूर्व महाराजधिराज दलीपसिंह, पूर्व महाराजधिराज, पूर्व रावराजा, पूर्व सिरायत व पूर्व राजा, पूर्व
ताजमी, जागीरदार, मुस्सदी, विशिष्ट नागरिक, पूर्व जागीरदार, सरदार व मारवाड़ के नागरिक व पैलेस के पूर्व व वर्तमान अधिकारियों व कर्मचारियों द्वारा जन्मदिन की शुभकामनाएं देकर नजर निछरावल की गई।