हिस्ट्रीशीटर व हार्डकोर अपराधी पोलाराम पुलिस रिमाण्ड पर

1017

साथियों को भी लिया रिमाण्ड पर
जोधपुर। तस्करी के लिए कार नहीं देने पर लेडी तस्कर सुमता विश्रोई के घर पर मंगलवार की तड़के हमला करने और आगजनी की वारदात को अंजाम देने के मुख्य आरोपी हिस्ट्रीशीटर एवं हार्डकोर अपराधी पोलाराम जाट और उसके दो साथियों की गिरफ्तारी के बाद आज न्यायालय में पेश किया गया। जहां से दो दिन की पुलिस अभिरक्षा में भेज दिया गया।
सनद रहे कि आधुनिक तरीके से मादक पदार्थ की तस्करी का नेटवर्क खड़ा कर मारवाड़ में चर्चा का विषय बनने वाली महिला तस्कर सुमता विश्नोई के बोरानाडा थाना क्षेत्र में स्थित एक मकान पर कुछ लोगों ने मंगलवार तड़के हमला कर दिया था।

हमलावरों ने उसके घर के बाहर खड़े वाहनों में तोडफ़ोड़ की और घर के बंद दरवाजे को आग लगा दी। घर में लगे सीसी टीवी कैमरे भी तोड़े। उन लोगों ने यहां जमकर दहशत फैलाई। बाद में वे ऐलानिया धमकी देकर फरार हो गए। हमले का आरोप चामूं के पूर्व सरपंच व हिस्ट्रीशीटर पोलाराम जाट पर लगाया गया। गुरूवार की रात में बारनाऊ निवासी पोलाराम पुत्र आदूराम जाट के साथ उसके दो साथियों व ओसियां के चैराई निवासी सुरेश पुत्र पुखराज विश्रोई एवं हरिश पुत्र शिवलाल को गिरफ्तार किया।

तीन दर्जन से ज्यादा प्रकरण दर्ज:

पुलिस आयुक्त के अनुसार पोलाराम जाट के खिलाफ तीन दर्जन से ज्यादा प्रकरण विभिन्न धाराओं में दर्ज हो रखे है। कई मामलों में वांछित चल रहा था। वह हिस्ट्रीशीटर होने के साथ हार्डकोर अपराधी है। साथ वालों का क्राइम ग्राफ देखा जा
रहा है। इन्हें आज अदालत में पेश कर दो दिन का रिमाण्ड लिया गया है।