12वीं की छात्रा ने फंदा लगाकर दी जान घटना का लगा सुबह पता

130

जोधपुर। शहर के गुरों का तालाब प्रतापनगर क्षेत्र की रहने वाली एक युवती ने गुजरी रात अपने घर में फंदा लगाकर
आत्महत्या कर ली। वह 12वीं की परीक्षाएं दे रही थी। आत्महत्या का कारण सामने नहीं आया है। फिलहाल पुलिस ने शव को अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया है। पिता बाड़मेर है। उनके आने पर आगे की कार्रवाई की
जाएगी।
प्रतापनगर थानाधिकारी पुष्पेंद्र सिंह आढा ने बताया कि गुरों का तालाब क्षेत्र में रहने वाली 12वीं में अध्ययनरत 18 साल की ख्वाहिश पुत्री हरिराम जाट के आज सुबह घर में फंदा लगाकर आत्महत्या किए जाने की जानकारी मिली। घर में मौजूद मां को इस घटना का पता लगने पर आसपास के लोगों को एकत्र कर उसे फं दे से उतार कर मथुरादास माथुर अस्पताल लाया गया। जहां पर डॉक्टर ने उसे मृत बता दिया। थानाधिकारी आढा के अनुसार मृतका के पिता हरिराम ट्रक चालक है। वह तीन भाई बहनों में सबसे छोटी थी।

दो बहनों की शादी हो रखी है। एक भाई बाहर रहता है। फिलहाल आत्महत्या की वजह पता नहीं चली है।

 

सेना के जवान ने फंदा लगाकर दी जान
पुत्र की मौत के बाद से था डिपे्रशन में
जोधपुर। रातानाडा स्थित आर्मी एरिया में अपने क्वार्टर में एक फौजी ने फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। उसके पुत्र की दो साल पहले हादसे में मौत के बाद वह डिपे्रेशन में चल रहा था। प्रथम दृष्टया पुलिस ने यही कारण बताया है। रातानाडा
पुलिस ने आज दोपहर में शव का पोस्टमार्टम करवाने के बाद परिजन को सौंपा। अनुसंधान जारी है। रातानाडा थाने की एसआई सुमन बुंदेला ने बताया कि मूलत: पंजाब के पोपार निहांग में क ोटला हाल रातानाडा आर्मी एरिया में अपने क्वार्टर में रहने वाले 56 साल के जज्गा सिंह पुत्र सरदारासिंह सिख ने रस्सी का फंदा लगाकर आत्महत्या की। हालांकि पता लगने पर उसे मिल्ट्री अस्पताल ले जाया गया। मगर बाद में एमजीएच रैफर किया गया। जहां पर मृत बताया गया। एसआई सुमन बुंदेला ने बताया कि उसके पुत्र की दो साल पहले हादसे में मौत हो गई थी। जिसके बाद से वह डिप्रेशन में भी था। शव का आज दोपहर में पोस्टमार्टम कराया गया है। मर्ग की कार्रवाई की गई।