जोधपुर में धूमधाम से मनाई जा रही है शनि जयंती विभिन्न मंदिरों में हो रही है विशेष पूजा-अर्चना

131

जोधपुर, 3 जून। शनि जयंती के मौके पर जोधपुर के विभिन्न शनि मंदिरों में
भगवान शनि देव की विशेष पूजा अर्चना हो रही है। शहर के विभिन्न शनि
मंदिरों को विशेष रूप से सजा दिया गया है और भक्तों की भीड़ को देखते हुए
सुरक्षा के इंतजाम कड़े किये गए हैं। मंदिरों में तेलाभिषेक के लिए श्रद्धालुओं
की भीड़ उमड़ रही हैं वही धार्मिक कार्यक्रम और दान पुण्य भी इस मौके पर किए
जा रहे हैं।
गौरतलब है कि आज शनि जयंती है और इस दिन को न्याय के देवता कहे जाने वाले
भगवान शनि के जन्मदिवस के रूप में मनाया जाता है। जोधपुर के विभिन्न शनि
मंदिरों में आज सुबह से ही धार्मिक अनुष्ठानों के साथ साथ तेलाभिषेक इत्यादी का
दौर शुरू हो चुका है। श्रद्धालु भगवान शनि को प्रसन्न करने के लिए अलग-अलग
तरह से अभिषेक कर रहें हैं तो वहीं जोधपुर के जूना खेडापति हनुमान मंदिर में
सामूहिक तेलाभिषेक के साथ विभिन्न अनुष्ठान किए जा रहे है।
मंदिर में आने वाले भक्तों की भीड़ को देखते हुए महिलाओं एवं पुरुषों के लिए अलग-
अलग दर्शन की व्यवस्था की गई है। इसी तरह शनिश्चरजी के थान स्थित शनि मंदिर में

पूजा अर्चना के साथ धार्मिक अनुष्ठान हो रहें हैं। शास्त्री नगर शनि धाम सहित
शहर के अन्य शनि मंदिरों में तेलाभिषेक के साथ धार्मिक कार्यक्रमों की धूम मची
हुई है।
लाचू कालेज के पास शास्त्री नगर क्षेत्र में स्थित शनि धाम में प्रात 7 बजे
ध्वजारोहण हुआ और 9 बजे से विशेष पूजन, मंत्र जाप विद्वान ब्राह्मणों की
ओर से किया जा रहा है। दोपहर 12 बजे विशेष पूजा के साथ महाआरती का
आयोजन हुआ और सायं 6 बजे से महातेलाभिषेक महापूजन होगा। रात्रि 8 बजे
महाआरती पश्चात प्रसाद वितरण, अभिमंत्रित मुद्रिाक व अभिमंत्रित रक्षा कवच का
वितरण के से आमरस और कोप्ता प्रसाद के ताथ रात्रि 12 बजे महाजन्म आरती
का आयोजित किया जायेगा।
चौपासनी रोड़ पर शनिश्चर जी का थान स्थित प्राचीन शनि मंदिर पर विशेष
धार्मिक आयोजन किये जा रहे हैं। मंदिर में विशेष साज सज्जा के साथ फुलमंडली
का आयोजन भी किया गया है। जूना खेडापति हनुमान मंदिर में सामूहिक
तेलाभिषेक के साथ विभिन्न अनुष्ठान किए जा रहे हें। मंदिर में आने वाले भक्तों
की भीड़ को देखते हुए महिलाओं एवं पुरुषों के लिए अलग-अलग दर्शन की व्यवस्था की गई
है। प्रतापनगर पुलिस चौकी के पास स्थित शनिधाम में आज सवेरे ध्वजारोहण
हुआ। ज्येष्ठ मास के कृष्णपक्ष अमावस्या होने के कारण आज अखण्डसौभाग्य के
लिए महिलाओं ने वट सावित्री व्रत रखा। आज सर्वार्थ सिद्घी योग भी है।