जमीन बेचान मे ́ करोडों ́ की धोखाधडी के आरोपी की जमानत याचिका खारिज

19

जोधपुर, 13 अगस्त। अपर मुय महानगर मजिस्ट्रेट स ́या-6,
जोधपुर महानगर द्वारा अग्रवाल पोलिसेक्स के वर्तमान
डायरेक्टर अभिलव अग्रवाल को धो१ाधडी के आरोप मे ́
न्यायिक हिरासत मे भेजते हुए केन्द्रीय कारागृह भेजने के
आदेश दिए।
बता दें कि आरोपी अभिलव अगवाल ने व्यवसायी मनोज
सि ́घवी को ग्राम निबला ब्राह्मणान की खसरा स ́या-93/4 की
कुल रकबा 8 बीघा भूमि जरिये इकरार बेचान के
द्वारा दिना ́क 8 नवंबर 2016 को बेचान करते हुए करोडो ́
रूपये बतौर प्रतिफल प्राप्त कर १रीददार की पत्नी के हक मे ́
बेचान इकरारनामा व तमाम कार्यवाही करने हेतु आम
मुत्यारनामा मनोज सि ́घवी के हक मे ́ निष्पादित किया था।
परिवादी के अधिवक्ता पुनमचंद पुरोहित ने बताया कि उक्त
निष्पादन के पश्चात जानबूझकर बेचान की गई भूमि को
धो१ाधडी करने के आशय से उक्त सपूर्ण भूमि अपनी माता म ́जू
अग्रवाल पत्नी स्व सुशील कुमार अग्रवाल के हक मे ́ प ́जीकृत
करवा दी, जिसकी जानकारी होने पर मनोज सि ́घवी व अन्य की
ओर से एक परिवाद न्यायालय मे ́ प्रस्तुत किया गया, जिसके
आधार पर पुलिस थाना उदयमन्दिर जोधपुर द्वारा
अभियुक्तगण अभिलव अग्रवाल, म ́जू अग्रवाल व अमृता ́जली अग्रवाल,
सुनील वैष्णव व भूराराम के विरूद्ध प्रथम सूचना रिपोर्ट
दर्ज करते हुए अनुस ́धान अधिकारी द्वारा अनुस ́धान प्रारभ
किया गया।
दौराने अनुस ́धान अभियुक्त म ́जू अग्रवाल द्वारा माननीय
राजस्थान उच्च न्यायालय के समक्ष उक्त प्रथम सूचना रिपोर्ट
को रद्द करवाने हेतु धारा-482 सीआर.पी.सी. के तहत
आपराधिक विविध याचिका दायर की, जो माननीय राजस्थान
उच्च न्यायालय द्वारा दिना ́क 18 फरवरी2019 को १ारिज की
गई। इसी प्रकरण मे ́ परिवादी मनोज सि ́घवी की ओर से भी
माननीय राजस्थान उच्च न्यायालय मे ́ विविध याचिका दायर
करते हुए निष्पक्ष व सही तरीके से अनुस ́धान किये जाने के
निर्देश पारित किये जाने की इस्तदुआ की, जिस पर माननीय
राजस्थान उच्च न्यायालय ने 18 फरवरी 2019 को पुलिस
अधीक्षक जोधपुर को निर्देश जारी करते हुए प्रकर ण् ा मे ́
विधि अनुसार अनुस ́धान करने के निर्देश दिये गये। दौराने
अनुस ́धान, अनुस ́धान अधिकारी द्वारा अभियुक्त अभिलव अग्रवाल
को गिरतार कर हिरासत मे ́ लिया गया व न्यायालय के
समक्ष प्रस्तुत करने पर न्यायालय ने अभियुक्त अभिलव अग्रवाल
को न्यायिक हिरासत मे ́ केन्द्रीय कारागृह जोधपुर भेजने
के आदेश पारित किये गये। अभियुक्त अभिलव अग्रवाल की
ओर से जमानत याचिका प्रस्तुत करने पर उसे न्यायालय
द्वारा १ारिज कर दिया गया। इस प्रकरण मे ́ अन्य आरोपी
म ́जू अग्रवाल पत्नी स्वर्गीय सुशील कुमार अग्रवाल, अमृता ́जली
अग्रवाल, सुनिल वैष् ण् ाव व भूराराम फरार है, जिनकी
तलाश जारी है।