आउटडोर के पास बनेगा ट्रोमा अस्पताल : प्राचार्य

25

जोधपुर, 30 अगस्त। मथुरादास माथुर अस्पताल में
स्थित ट्रोमा सेंटर में बढ़ते मरीजो के दबाव
के चलते अब आउटडोर के पास एक ट्रोमा
अस्पताल बनाया जायेगा जिसके सभी विशेषज्ञ
डॉक्टरों की सेवाएं और ऑपरेशन की
व्यवस्था चौबीस घंटे उपलब्ध रहेगी। यह
जानकारी आज डा. एस.एन.मेडीकल कालेज के
प्राचार्य डा. एस एस राठौड़, आर्थोपैडिक
विभागाध्यक्ष डा. अरूण वैश्य, महात्मा गांधी
अस्पताल के अधीक्षक डा. महेश भाटी और
एमडीएम अस्पताल के अधीक्षक डा. महेन्द्र आसेरी
ने आज संवाददाता सम्मेलन में दी।
उन्होने बताया कि डा. एस.एन. मेडिकल कॉलेज
के आर्थोपेडिक विभाग ने अब नई तकनीकी और
विशेषता के साथ घुटना प्रत्यारोपण, जोड़
प्रत्यारोपण नवीन तकनीकी के साथ किये गए है
और चार साल के दौरान करीब एक हजार
ऑपरेशन किये गए है। उन्होंने बतााय कि
स्पोर्टस एंजरी के 11 सौ ऑपरेशन दूरबीन
से आपरेशन करने के साथ रीड की
हड्डी के ऑपरेशन भी अब तक किये जा
चुके है। उन्होंने बताया कि जोधपुर के
एमडीएम अस्पताल के ट्रोमा सेंटर में बढ़ते
मरीजों के दबाव के चलते आगामी मार्च तक

ओपीडी के पास एक ट्रोमा अस्पताल का निर्माण
किया जायेगा जहां पर ऑथोपेडिक, सर्जरी,
मेडिसन और न्यूरो सर्जरी के विशेषज्ञों की
सेवाएं राउण्ड द क्लॉक मरीजों को मिलेगी
और इसके लिये ट्रोमा अस्पताल में 25 बेड का
आईसीयू वार्ड और 75 बेड का अस्पताल
बनाया जाएगा।